न्यूट्रोफिलिया का अर्थ हिंदी में

Dr. Abhishek

Updated on:

neutrophilia meaning in hindi

परिचय

neutrophilia meaning in hindi न्यूट्रोफिलिया एक चिकित्सा परामर्श का एक महत्वपूर्ण पहलू है जो रक्त में मौजूद न्यूट्रोफिल्स की मात्रा बढ़ जाने को दर्शाता है। यह एक रक्तरंजनी परीक्षण के अंतर्गत मापा जाता है और रक्त संचालन और शोध करके न्यूट्रोफिलिया के लक्षणों और कारणों का पता लगाया जा सकता है। इस लेख में हम न्यूट्रोफिलिया के मतलब, उसके प्रकार, कारण, लक्षण, और इसके संभवित उपचार के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे।

न्यूट्रोफिलिया का वर्णन

न्यूट्रोफिलिया का मतलब होता है कि रक्त में न्यूट्रोफिल्स की संख्या सामान्य से अधिक हो जाती है। न्यूट्रोफिल्स, जो व्हाइट ब्लड सेल्स के एक प्रकार होते हैं, संक्रमण के लिए लड़ने वाले प्रमुख कोशिकाएं होती हैं। यह शरीर को अवरोधक प्रतिरक्षा प्रदान करने में मदद करते हैं, लेकिन अगर उनकी संख्या अधिक हो जाए तो इसका मतलब होता है कि शरीर में कोई संक्रमण या अन्य समस्या हो सकती है।

न्यूट्रोफिलिया के प्रकार

प्राइमरी न्यूट्रोफिलिया
प्राइमरी न्यूट्रोफिलिया उन स्थितियों को कहते हैं जहां रक्त में न्यूट्रोफिल्स की संख्या बढ़ जाती है, लेकिन यह बदलाव सामान्य शरीरिक प्रतिरक्षा प्रक्रिया के कारण होता है और किसी संक्रमण के कारण नहीं। यह आमतौर पर किसी अन्य शारीरिक समस्या के परिणाम के रूप में देखा जाता है जैसे कि इंफ्लामेशन, शरीर के अंदर संक्रमण या विषाणु संक्रमण के कारण।

सेकंडरी न्यूट्रोफिलिया

सेकंडरी न्यूट्रोफिलिया एक संक्रमण या अन्य शारीरिक समस्या के कारण होता है। जब किसी प्रकार का संक्रमण होता है, तो न्यूट्रोफिल्स की संख्या बढ़ जाती है क्योंकि ये शरीर के रोगाणुओं के खिलाफ लड़ने के लिए अधिक मात्रा में उत्पन्न होते हैं। इसलिए, सेकंडरी न्यूट्रोफिलिया अक्सर किसी प्रकार के संक्रमण के लक्षण होने पर देखा जाता है।

न्यूट्रोफिलिया के कारण

न्यूट्रोफिलिया कई कारणों से हो सकती है। यहां कुछ मुख्य कारण दिए गए हैं:

संक्रमण

न्यूट्रोफिलिया का सबसे सामान्य कारण संक्रमण होता है। जब शरीर में किसी भी भाग में संक्रमण होता है, तो न्यूट्रोफिल्स संक्रमण के कारणों का सामना करने के लिए उत्पन्न होते हैं। ये संक्रमण विषाणुओं या कीटाणुओं के कारण हो सकते हैं और उनकी संख्या में वृद्धि का कारण बनते हैं।

संक्रमणों के अलावा कारण

न्यूट्रोफिलिया के अलावा अन्य कारण शामिल हो सकते हैं neutrophilia meaning in hindi जैसे कि शरीर में अधिक मात्रा में न्यूट्रोफिल्स उत्पन्न होना, इंफ्लामेशन, संक्रमण के रोगाणुओं का संक्रमण, शरीर में विषाणु संक्रमण, गठिया, रक्ताल्पता, एलर्जी, औषधि सेवन, रक्त कैंसर, आदि। ये सभी कारण न्यूट्रोफिलिया के लक्षणों में वृद्धि का कारण बन सकते हैं।

औषधि सेवन

कुछ दवाओं का उपयोग करने के बाद भी न्यूट्रोफिलिया हो सकती है। कुछ औषधियाँ न्यूट्रोफिल्स के उत्पादन को बढ़ा सकती हैं, जिसके कारण इसकी संख्या में वृद्धि होती है। इसलिए, दवाओं का उपयोग करते समय यह एक महत्वपूर्ण कारण हो सकता है जो न्यूट्रोफिलिया का कारण बन सकता है।

कैंसर

कुछ कैंसर के प्रकार न्यूट्रोफिलिया का कारण बन सकते हैं। कैंसर के कुछ रूप शरीर में न्यूट्रोफिल्स के उत्पादन को बढ़ा सकते हैं, जिससे इनकी संख्या में वृद्धि होती है।

न्यूट्रोफिलिया के लक्षण

न्यूट्रोफिलिया के कुछ आम लक्षण हैं जिन्हें निम्नलिखित रूप में देखा जा सकता है:

त्वचा में सूजन या लालिमा
ज्वर
थकान
गले में दर्द या सूजन
सांस लेने में कठिनाई
पेट में दर्द या उलटी
आंतों में संक्रमण के लक्षण
श्वसन में दिक्कत
पसलियों में दर्द
यदि आपको इन लक्षणों की जांच करने के बाद लगता है कि आपके शरीर में न्यूट्रोफिलिया हो सकती है, तो आपको चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए। चिकित्सक आपकी जांच करेंगे, जैसे कि रक्त टेस्ट और अन्य परीक्षण, ताकि सही निदान और उपचार की संभावना हो सके।

न्यूट्रोफिलिया का निदान

न्यूट्रोफिलिया का निदान शरीर में न्यूट्रोफिल्स की संख्या के माप और रक्त परीक्षण के माध्यम से किया जाता है। न्यूट्रोफिलिया का निदान करने के लिए, चिकित्सक आपका रक्त टेस्ट करेगा, जिसमें वे रक्त संचालन, न्यूट्रोफिलिया के लक्षण और कारणों का पता लगाने के लिए अन्य टेस्टों का उपयोग करेंगे।

न्यूट्रोफिलिया का उपचार

न्यूट्रोफिलिया का उपचार न्यूट्रोफिलिया के कारण और लक्षणों पर निर्भर करेगा। यहां कुछ उपाय हैं जो न्यूट्रोफिलिया के उपचार में मदद कर सकते हैं:

मूल कारण का इलाज

न्यूट्रोफिलिया के पीछे का मूल कारण का इलाज करना महत्वपूर्ण है। अगर यह एक संक्रमण के कारण है, तो चिकित्सक आपको उचित एंटीबायोटिक्स या अन्य उपचार की सलाह देंगे। यदि यह किसी अन्य समस्या के कारण हो रही है, तो चिकित्सक विशेषज्ञ सलाह देंगे और अनुकूल उपचार की सलाह देंगे।

न्यूट्रोफिलिया के लक्षणों का निदान

न्यूट्रोफिलिया के लक्षणों का निदान करना महत्वपूर्ण है ताकि चिकित्सक ठीक उपचार कर सकें। आपके लक्षणों के आधार पर, चिकित्सक आपका विवरणीय परीक्षण करेंगे और आपके लक्षणों के पीछे के कारण का पता लगाएंगे। इसके आधार पर वे उपचार की सलाह देंगे और उचित दवाओं का प्रावधान करेंगे।

न्यूट्रोफिलिया के उपचार के विकल्प

न्यूट्रोफिलिया के उपचार के विभिन्न विकल्प हो सकते हैं जैसे कि दवाओं का सेवन, रोकथाम और आपातकालीन चिकित्सा। चिकित्सक आपके लक्षणों और कारणों के आधार पर उपचार की सलाह देंगे और उचित उपायों का प्रावधान करेंगे।

न्यूट्रोफिलिया क्या होता है?
न्यूट्रोफिलिया एक चिकित्सा परामर्श है जिसमें रक्त में न्यूट्रोफिल्स की मात्रा बढ़ जाती है। यह शरीर के संक्रमण या अन्य समस्याओं के कारण हो सकता है।

न्यूट्रोफिलिया के कारण क्या हैं?
न्यूट्रोफिलिया के कारणों में संक्रमण, अन्य समस्याएं, औषधि सेवन और कैंसर शामिल हो सकते हैं।

न्यूट्रोफिलिया के लक्षण क्या होते हैं?
न्यूट्रोफिलिया के लक्षण में सूजन, ज्वर, थकान, गले में दर्द या सूजन, सांस लेने में कठिनाई, पेट में दर्द या उलटी, आंतों में संक्रमण के लक्षण, श्वसन में दिक्कत, पसलियों में दर्द आदि शामिल हो सकते हैं।

न्यूट्रोफिलिया का निदान कैसे होता है?
न्यूट्रोफिलिया का निदान रक्त परीक्षण के माध्यम से होता है जो न्यूट्रोफिल्स की संख्या को मापता है।

न्यूट्रोफिलिया का इलाज क्या होता है?

न्यूट्रोफिलिया का इलाज न्यूट्रोफिलिया के कारण और लक्षणों पर निर्भर करेगा। Neutrophilia meaning in Hindi इसे शरीरिक समस्या के पीछे के कारण का इलाज करके या औषधियों के सेवन के माध्यम से नियंत्रित किया जा सकता है।

निष्कर्ष

न्यूट्रोफिलिया एक महत्वपूर्ण चिकित्सा परामर्श है जिसमें रक्त में न्यूट्रोफिल्स की मात्रा बढ़ जाती है। यह एक संक्रमण या अन्य समस्या के कारण हो सकती है और सामान्य लक्षणों में सूजन, ज्वर, थकान और दर्द शामिल हो सकते हैं। इसे सही निदान करने और उपचार करने के लिए चिकित्सक की सलाह लेना जरूरी है।

 

ध्यान दें: इस लेख का उद्देश्य केवल सूचना प्रदान करना है और यह चिकित्सा सलाह की जगह नहीं ले सकता। पहले अपने चिकित्सक से परामर्श लें और उनके दिए गए निर्देशों का पालन करें।

Leave a Comment