नींद की टैबलेट का उपयोग हिंदी में (neend ki tablet)

Dr. Abhishek

neend ki tablet

Table of Contents

Neend Ki Tablet का नाम और मूल्य

Neend ki Tablet : ध्यान देने पर, छोटे बच्चों से लेकर बड़े लोगों में भी नींद की कमी और नींद नहीं आना बहुत आम हो गया है. इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं, लेकिन ये एक महत्वपूर्ण कारण है. जब कोई व्यक्ति अपनी नींद को सही ढंग से पूरा नहीं करता, तो वह पूरे दिन बदतर महसूस करता है और अपनी सेहत पर भी बुरा प्रभाव डालता है. अगर यह लंबे समय तक जारी रहा तो

नींद की कमी के कारण काम में दिलचस्पी नहीं होती, बिना किसी वजह से चिड़चिड़ापन आता है, सही तरह से सोच समझ नहीं पाते, कनफुसजन होता है, ब्रेन फॉग होता है, बार-बार गुस्सा आता है, ये कुछ साइड एफ्फेट हैं, लेकिन इसकी सूची बहुत लंबी होगी.हाल ही में एक स्टीडी आया है जो कहता है कि कम सोने वाले लोगों को स्ट्रोक, मधुमेह, दिल की बीमारी, किडनी रोग और हाई ब्लड प्रेशर की अधिक संभावना होती है. इसलिए सही समय पर इसका इलाज करना अत्यंत महत्वपूर्ण है.

नींद का क्या अर्थ है— Sleep While

आपको इस लेख में नींद की टेबलेट के नाम और मूल्य के बारे में जानकारी मिलेगी, लेकिन इससे पहले नींद न आने की समस्या के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी पढ़ें. जब आप इसे इनसोम्निया कहते हैं, तो आप जानते हैं कि यह एक बीमारी है जिसका इलाज एक अलग तरह से होना चाहिए.

जब हम सोते हैं, हमारा शरीर और दिमाग दोनों रिकवर होते हैं, इसलिए जब आप नींद से उठते हैं तो आपको खुश महसूस होता है.

नींद की टेबलेट लेने के फ़ायदे | neend ki tablet name

थोड़ी देर में, आपको ये नींद की टेबलेट क्यू खाने के क्या लाभ मिलते हैं? वे आपके मन में चल रहे विचारों को शांत करते हैं, शरीर की थकान और स्ट्रेस को कम करते हैं, जिससे आप नींद आने में मदद मिलती है. ये गोलिया आपको बेहतर नींद लेने में भी मदद करते हैं अगर आप डिप्रेशन या अन्य मानसिक समस्याओं से परेशान हैं.

नींद की टेबलेट लेने के नुक्सान | Neend Ki Dawa Ka Naam

अब आपको लगता है कि हम नींद की गोलियों की नाम के अलावा और भी जानकारी दे रहे हैं. आपको भी पता होना चाहिए कि आप जो खा रहे हैं उसके क्या क्या दुष्प्रभाव होंगे.

Nind ki Goli ka naam जो हम इस लेख में आपको बताने वाले हैं, उसे सिर्फ कुछ समय के लिए प्रयोग करना चाहिए. आपको अपनी इच्छा से किसी भी दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए. डॉक्टर भी ऐसे दवा को सिर्फ विशिष्ट परिस्थितियों में लेने को कहते हैं.

यह दवा एक लत बन जाती है और इसकी आदत आपके दिमाग पर पड़ जाती है, इसलिए आप बिना इसके सो नहीं सकते और इसकी लत छुड़ाना भी बहुत मुश्किल हो जाता है. यह दवा बार-बार लेने से शरीर इसकी आदत बना लेता है. जसि के कारण हमें कुछ समय के बाद अतिरिक्त शक्ति देने वाली दवा लेनी पड़ती है, जो किसी भी तरह से स्वास्थ्यप्रद नहीं है.

ज्यादा मात्रा में दवा लेने से मोत हो सकता है. इस दवा को छोड़ने के बाद आपको और भी बुरे दुष्प्रभाव हो सकते हैं, जैसे हाँथ, पांव और शरीर कांपना, ठीक से सोचना मुश्किल होना और अन्य कई बुरे प्रभाव.

इसलिए डॉक्टर की निगरानी में ही ऐसे दवा का सेवन करना चाहिए ।

1  दवा की आदत लग सकती है
2 हाई ब्लड प्रेशर हो सकता है
3 कब्ज हो सकता है
4 हाथ – पैरो और त्वचा पर जलन का अनुभव होना
5 दस्त का होना
6 मुहँ और गले में सुखापन महसूस होना
7 कमजोरी का अनुभव होना
8 गैस का बनना
9 सिर में हल्का या तेज दर्द होना
10  पेट में दर्द होना

neend ki tablet

नींद की टेबलेट का नाम और मूल्य

हाल ही में डॉक्टर से मिलने वाले कुछ नींद की दवा भी उपलब्ध हैं. 5 मिनिट में नींद आने वाले नए दवा भी आए हैं. आपको अपनी बीमारी की त्रीवता के अनुसार ही दवा लेनी चाहिए, बिना सावधानी से. नींद की गोलियों का नाम, मूल्य और विवरण निचे दिए गए हैं, इसलिए सबसे पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेकर ही इस दवा को लेना चाहिए.

निंद की गोली टैबलेट का नाम Ativan 2mg है

Ativan 2mg दवा का प्रयोग स्टेस, तनाव, डिप्रेशन और नींद की समस्याओं का इलाज करने के लिए किया जाता है. यह दवा 1 से 3 मिनट में नींद आने लगती है क्योंकि इसमें Lorazepam नामक तत्व है.

इस दवा का प्रभाव कितने समय तक रहता है, यह 10 से 12 घंटे की गहरी नींद में आसानी से मिलता है. यह नींद की गोली बहुत लोकप्रिय है, इसलिए आपको डॉक्टर से पर्ची लेनी होगी. एक महीने का कोर्स, 30 गोली के साथ, 500 रुपये में मिलता है.

बोल्डफिट स्लीपिंग एड पिल्स स्लीपिंग टैबलेट का नाम है (Boldfit Sleeping Aid Pills neend ki tablet name) 

Boldfit Sleeping Aid Pills सबसे लोकप्रिय दवा है क्योंकि इसके सेवन से दिमाग में मेलाटोनिन की मात्रा कम हो जाती है, जो मन को शांत करता है और शरीर को रिलेक्स करता है, जिससे आप गहरी नींद ले सकते हैं.

ये नीद टेबलेट खाना भी बहुत आसान है. आपको रात को सोने से पहले डॉक्टर ने बताई गई खुराक को भरपूर पानी के साथ लेना चाहिए. यह दवा सही से काम करने के लिए दो से तीन महीने तक खाना चाहिए. 60 गोलिया का एक पैकेद 400 रुपये में आसानी से किसी भी मेडिकल स्टोर से खरीद सकते हैं.

न्यूट्रीशार्क द्वारा मेलाटोनिन स्लीप स्प्रे (Melatonin Sleep Spray by Nutrishark)

यदि आप गोली खाना नहीं चाहते तो Nutrisharks Melatonin Sleep Spray एक विकल्प है. इस स्प्रे में मौजूद विटामिनों की वजह से आपको कुछ ही मिनट में गहरी 9 से 20 घंटे तक नींद आ जाएगी.

कारन इस दवा का उपयोग भी बहुत आसान है. आपको बस जुबान के निचे हल्का सा स्प्रे कारन चाहिए, जो आपको रात में सोने से पहले बेड पर आँख बंद करके लगाना चाहिए. इसकी कीमत आसानी से 400 रुपये के आसपास है.ये दवा कहती है कि इस तरल स्प्रे की वजह से शरीर आसानी से प्रतिक्रिया करता है और इसकी कोई लत भी नहीं बनती है.

मजबूत नींद की गोलियां नाम का नाम है Cureveda Herbal SleepSure Pills

यदि आप आयुर्वेदिक तत्वों से बनाई गई मजबूत नींद की गोलियों की तलाश में हैं, तो Cureveda Herbal SleepSure Pills का उपयोग करें. ये दवा बिल्कुल काम करती है जब हमारी लाइफस्टाइल, खानपान और कुछ बुरे आदतों से नींद आना मुश्किल होता है.

जब बात खुराक की आती है, तो आपको इसे सोने से एक घंटे पहले साधारण पानी के साथ लेना चाहिए. इसके बाद आपको फोन, टीवी या किसी भी ऐसे उपकरण का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए जो आपकी नींद को बाधित कर सकते हैं.

अब सबसे महत्वपूर्ण आयुर्वेदिक नींद की गोली की कीमत देखते हैं. तीस गोली का एक पैक लगभग 600 रुपये में मिलता है.

Neend Ki Tablet Name List

1 मेलोसेट टैबलेट
2 एसेंट्रा 1mg टेबलेट
3 फुल्नाइट 1 एमजी
4 ज़ेनड्रिल 25mg
5 रैमिटैक्स टेबलेट
6 सिडोपिन 25mg
7 जस्टस्लीप 1mg टेबलेट(Neend Ki Tablet Name)
8 डोक्सेपिन 25mg
9 मेलकैडिन 3mg टेबलेट
10 निटरेस्ट 10

 

निंद की दवा का नाम ग्रीन क्योर रेस्टोस्लीप+ मेलाटोनिन है

हमारे शरीर में मेलाटोनिन नामक हार्मोन होता है, जो नींद लाता है. दवा मेलाटोनिन के स्तर को बढ़ाकर अच्छी नींद लाती है. निर्माताओं का कहना है कि ये दवा ग्लूटन और शुगर से मुक्त है, इसलिए इसकी लत नहीं लगती है और आप इसे कभी भी छोड़ सकते हैं.

यह दवा लेने के बाद 50 से 60 मिनिट या एक घण्टे के अंदर आपको आसानी से गहरी नींद आने लगेगी. 100 मिली की बोतल का मूल्य लगभग 150 रूपये है.

नींद की गोली का नाम है BOLDPOPS Melatonin Gummies For Sleep

आप इस दवा को ले सकते हैं अगर आपको अंग्रेजी दवा लेना अच्छा नहीं लगता या उनकी टेस्ट कड़वी होती है.

Neend ki tablet, जिसका नाम हमने ऊपर दिया है, पूरी तरह से आयुर्वेदिक तत्वों से बनाया गया है और इसमें कोई हानिकारक दुष्प्रभाव नहीं हैं.

इस दवा को लेने से पहले, यह आपको तनाव से छुटकारा दिलाता है और आपको पॉजिटिव ऊर्जा देता है, जो आपको नींद आने में मदद करता है. आपको इसे सोने से 45 से 50 मिनट पहले खाना चाहिए और फिर सो जाना चाहिए. ये आपको 10 घंटे के आसपास की नींद में बहुत आराम देगा.

नींद की आयुर्वेदिक दवा है Wellbeing Nutrition Melts Strips

अगर आप सिरप , गोली , टेबलेट , स्प्रे का इस्तेमाल नहीं करना चाहते हो तो उस कंडीसन में आप Wellbeing Nutrition Melts Strips का इस्तेमाल कर सकते हो ये बाकी दवा की तरह ही असर करती है इस दवा में प्रमुख रूप से तगार, मेलाटोनिन और विटामिन बी – 6 पाए जाते है जिस की वजह से रात को सोने से पहले इसकी सिर्फ एक स्ट्रिप मुँह में रखते हो तो अपंने आप कुछ मिनिट में पिघल जाएगी और आपको गहरी नींद आने को शुरू हो जाएगी ।

इस neend ki tablet name and price की बात करे तो एक महीने का कोर्स ये आपको 600 रूपये में आसानी से मिल जाएगी । ये आसानी से ऑनलाइन पर उपलबध है और ऑफलाइन स्टोर पर भी उपलबध हो जाती है ।

हिमालयन ऑर्गेनिक्स मेलाटोनिन टैबलेट(Himalayan Organics Melatonin Tablets)

ये जो Himalayan Organics तरफ से आने वाली नींद आने की दवा ये नेचरल तत्व से तैयार जाने वाली एक दवा है जो की नींद के लिए जरुरी जो मेलाटोनिन हार्मोन होता है उसको बड़ी ही आसानी से बड़ा देता है जिस वजह से आपको आरामदायी नींद आ जाती है । ये दवा का सेवन करने से आपका मूड भी सही होने में मदत करता है उस ही तरह आपको नए ऊर्जा प्रदान करता है , स्ट्रेस और तनाव काम करने में डायरेक्ट मदत करता है और भी बहुत सारे फायदे होते है ।

बात रही इसका सेवन कैसे किया जाये तो इस दवा की एक गोली रात को सोने से पहले करीब 30 से 40 मिनिट पहले नार्मल पानी के साथ सेवन करनी है पर हां डॉक्टर की सलहा के बाद ही सेवन करना है । इसकी प्राइस की बात करे तो इसकी 120 गोलिया ये आपको 600 रूपये में आसानी से मिल जाती है ।

अनिद्रा के लिए उपाय Tips For Insomnia In Hindi

जैसा कि हमने आपको इस भाग में बताया है कि neend ki tablet का नाम और मूल्य बहुत बुरा होता है, इसलिए आप अपने जीवन में कुछ छोटे बदलाव करके देख सकते हैं कि आपकी समस्याएं एक दिन में हल नहीं होंगी. आपको पता है कि नियमित जीवनशैली अपनाने से ही इसका असर देखने को मिलेगा.

टेंशन

ज्यादा टेंशन लेने से शरीर में कई बीमारियां होती हैं, और ज्यादा सोचने से दिमाग में लगातार नेगेटिव विचार आते रहते हैं, जो अक्सर रात में बढ़ जाते हैं, इसका एकमात्र समाधान है आपको जो भी कठिनाई है, उसे दूसरों से बताओ. यह आपकी कठिनाई को कम करने में मदद करता है और आपको सोने में आसानी होती है.

सोने का सही समय

आजकल लोग नाईट शिफ्ट करने लगते हैं, जैसे कुछ लोग नींद नहीं आती है तो मोबाइल पर समय बिताने लगते हैं, लेकिन ऐसा करने से शरीर भी अपना लेता है, लेकिन ये आदत पूरी तरह से गलत है. आपको नींद आती है या नहीं? आपको इन फिक्स को एक बार करना चाहिए. आपको बस इतने बजे सोना है. इससे आपकी खराब स्लीप सायकल को ठीक करने में मदद मिलती है.

neend ki tablet

शांत और अच्छा मोहोल 

शांत होने की आवश्यकता जितनी महत्वपूर्ण है, उतनी ही महत्वपूर्ण है अच्छी नींद. जब क्यू को बीच में नींद टूट जाती है तो फिर से सोने में मुश्किल हो जाती है, इसलिए jitna हो सकता है कि उतना शांत हो जाओ जितना संभव हो. सोने में मदद करने वाले कुछ मुस्जिक और परफूम हैं आप सोने में मदद करने वाले कुछ रोशनी का इस्तेमाल कर सकते हैं.

मोबाइल , टीवी से दुरी

अगर आपको बिस्तर पर फ़ोन लेकर सोने में आदत है तो इस आदत को तुरंत बंद कीजिये । इस ही तरह रूम में कोई और फ़ोन इस्तेमाल करता है तो उस से भी दुसरो को प्रॉब्लम हो सकती हैं इसलिए  दुसरो को भी ब्नद करने के लिए कह सकते हो । रात को सोते समय कोई भी भयभीत करने वाली चीज न देखे क्यू की अक्सर डर के कारन भी नीदं नहीं आती है ।

कसरत

हेअल्थी जीवनशैली में कसरत भी महत्वपूर्ण है, इसलिए आप भारी वॉकिंग या योग भी कर सकते हैं. सुबह और शाम को 30 से 30 मिनिट की वाक भी करना आपको रात में अच्छी तरह से सोने में मदद करता है.

पोषण का भी ध्यान

महीने में एक दो बार जंक फूड खाना ठीक है, लेकिन बार-बार खाना नशीला होता है और कुछ बुरे प्रभाव भी हैं. इसलिए मैदायुक्त खाद्य पदार्थों से दूर रहना चाहिए. हरी सब्जियां और फल भी खा सकते हैं, जो आपके आहार को अधिक पोषक बनाते हैं.

डॉक्टर की राय

यदि आप किसी मानसिक बीमारी से पीड़ित हैं तो आपको सोने में कठिनाई हो सकती है, इसलिए आपको एक मनोचिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए. डॉक्टर की सहायता से आप कुछ दिनों में फिर से स्वस्थ हो सकेंगे.

नींद आने की दवा पतंजलि – Neend Ki Medicine Patanjali

ऊपर आपको neend ki tablet name की जानकारी दी गई है, लेकिन अगर आपको सिर्फ पतंजलि की दवा की जानकारी चाहिए तो इस संबंधित लिस्ट को देखें. ये दवा पतंजलि उत्पाद हैं, जो आपको पतंजलि स्टोर और ऑनलाइन आसानी से मिल जाएगी.

1 पतंजलि का बादाम रोगन तेल
2 पतंजलि का दिव्य पेय
3 पतंजलि की दिव्य मेधा वटी
4 पतंजलि दिव्य सारस्वतारिष्ट

 

Neend ki Tablet के बारे में छोटे सवाल-जवाब:

  1. नींद की टैबलेट क्या होती है?
    उत्तर: नींद की टैबलेट एक दवा होती है जो नींद को बढ़ाने या नींद की समस्याओं को दूर करने के लिए उपयोग की जाती है।
  2. नींद की टैबलेट का काम कैसे करता है?
    उत्तर: नींद की टैबलेट मांसपेशियों को आराम देने वाले तत्वों को शामिल करके शरीर को शांति और नींद की स्थिति में ले जाने के माध्यम से काम करती है।
  3. नींद की टैबलेट को कैसे उपयोग करें?
    उत्तर: आपको अपने चिकित्सक के मार्गदर्शन के अनुसार नींद की टैबलेट को दिन में या रात को समय पर उपभोग करना चाहिए।
  4. नींद की टैबलेट को कब लेना चाहिए?
    उत्तर: नींद की टैबलेट को सोने से 30 मिनट पहले लेना चाहिए, ताकि यह अपना प्रभाव दिखा सके और आपको नींद आ सके।
  5. नींद की टैबलेट के साइड इफेक्ट्स क्या हो सकते हैं?
    उत्तर: नींद की टैबलेट के संभावित साइड इफेक्ट्स में चक्कर आना, अंधेरी आँखें, उदासी, निश्चेष्टता, या आंतरिक शांति की अभावित अनुभूति शामिल हो सकती है।
  6. नींद की टैबलेट के सेफ तरीके क्या हैं?
    उत्तर: नींद की टैबलेट को उचित मात्रा में और चिकित्सक द्वारा निर्देशित समय पर लेना चाहिए। इसे बिना डॉक्टर की सलाह के लंबे समय तक लेने से बचें।
  7. क्या नींद की टैबलेट बिना डॉक्टर की सलाह के ले सकते हैं?
    उत्तर: नहीं, आपको नींद की टैबलेट बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं लेनी चाहिए। एक चिकित्सक सबसे अच्छा राय देकर आपको सही दवा और मात्रा की सलाह दे सकता है।
  8. क्या नींद की टैबलेट की आदत बना सकती है?
    उत्तर: हाँ, नींद की टैबलेट को नियमित रूप से और लंबे समय तक लेने से आपकी शरीर में इसकी आदत बन सकती है। इसलिए, यह महत्वपूर्ण है कि आप इसे चिकित्सक के मार्गदर्शन पर ही लें।
  9. नींद की टैबलेट कितनी समय तक काम करती है?
    उत्तर: नींद की टैबलेट का प्रभाव व्यक्ति के शरीर के लिए विभिन्न हो सकता है, लेकिन आमतौर पर यह 6-8 घंटे काम कर सकती है।
  10. नींद की टैबलेट को अधिकतम कितने समय तक ले सकते हैं?
    उत्तर: आपको नींद की टैबलेट को अधिकतम व्यक्तिगत और चिकित्सक द्वारा निर्देशित समय तक ही लेना चाहिए। इसे लंबे समय तक बिना चिकित्सक की सलाह के लेने से बचें।
  11. क्या नींद की टैबलेट शराब के साथ ले सकते हैं?
    उत्तर: नहीं, शराब नींद की टैबलेट के साथ सेवन करने से बचें। शराब नींद के द्रव्य पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है और आपकी स्थिति को और बिगाड़ सकती है।
  12. क्या नींद की टैबलेट को प्रेग्नेंट महिलाएं ले सकती हैं?
    उत्तर: प्रेग्नेंट महिलाओं को नींद की टैबलेट लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। कुछ दवाओं का गर्भावस्था में उपयोग करने पर असर हो सकता है, इसलिए विशेषज्ञ की सलाह का पालन करें।
  13. नींद की टैबलेट को कैसे संभालें?
    उत्तर: आपको नींद की टैबलेट को अपने चिकित्सक द्वारा निर्देशित स्थान पर सुरक्षित रखना चाहिए। इसे बच्चों और अनधिकृत व्यक्ति के हाथ से दूर रखें।
  14. क्या नींद की टैबलेट की वजह से नशा होता है?
    उत्तर: नहीं, नींद की टैबलेट नशीली दवा नहीं होती है। यह नींद को प्राप्त करने में मदद करने वाली दवा है, जो सामान्यतः उचित मात्रा में ली जाती है।
  15. क्या नींद की टैबलेट से हाथ में कम्पन होता है?
    उत्तर: हां, कुछ मामलों में नींद की टैबलेट से हाथों में कम्पन हो सकता है। यदि यह समस्या बनी रहती है, तो आपको अपने चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए।
  16. क्या नींद की टैबलेट आपको नींदभरी हालत में उठाएगी?
    उत्तर: हाँ, नींद की टैबलेट आपको नींदभरी हालत में उठा सकती है। इसलिए, सुरक्षित रहें और गाड़ी चलाने या मशीनरी का उपयोग करने से पहले इस्तेमाल न करें।
  17. क्या नींद की टैबलेट से चिंता हो सकती है?
    उत्तर: हाँ, कुछ मामलों में नींद की टैबलेट से चिंता या अस्थिरता हो सकती है। अगर आपको ऐसा लगता है, तो आपको अपने चिकित्सक से परामर्श लेना चाहिए।
  18. क्या नींद की टैबलेट आपको दिन भर थकाने वाला महसूस कराएगी?
    उत्तर: नहीं, नींद की टैबलेट आपको दिन भर थकाने वाला महसूस नहीं कराएगी। यह आपको नींद आने और सुबह तक आराम से सोने में मदद करेगी।
  19. क्या नींद की टैबलेट की अधिक मात्रा लेने से अच्छी नींद मिलेगी?
    उत्तर: नहीं, नींद की टैबलेट की अधिक मात्रा लेने से अच्छी नींद मिलने की गारंटी नहीं होती है। सदियों का नुस्खा है कि आप इसे उचित मात्रा में लें और डॉक्टर के निर्देशों का पालन करें।
  20. क्या नींद की टैबलेट को रोज़ाना लेना चाहिए?
    उत्तर: नींद की टैबलेट को रोज़ाना लेने की आवश्यकता नहीं होती है। यह सर्वोत्तम है कि आप डॉक्टर के सलाह के अनुसार और जब आपको नींद की जरूरत हो, तब इस्तेमाल करें।
ध्यान दें: इस लेख का उद्देश्य केवल सूचना प्रदान करना है और यह चिकित्सा सलाह की जगह नहीं ले सकता। पहले अपने चिकित्सक से परामर्श लें और उनके दिए गए निर्देशों का पालन करें।

 

Leave a Comment