Yoga

liv 52 syrup uses in hindi

liv 52 syrup uses in hindi

liv 52 syrup uses in hindi

Himalaya Liv.52 Syrup एक आयुर्वेदिक दवा है |यह दवा पेट से जुडी बीमारी में इस्तेमाल की जाती है |यह सिरप पेट के अलावा भी कई बीमारी में इस्तेमाल की जाती है |Himalaya Liv.52 DS Syrup बिना डॉक्टर के पर्चे द्वारा मिलने वाली आयुर्वेदिक दवा है, जो मुख्यतः लिवर रोग के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। इसके अलावा Himalaya Liv.52 DS Syrup का उपयोग कुछ दूसरी समस्याओं के लिए भी किया जा सकता है।  Himalaya Liv.52 DS Syrup के मुख्य घटक हैं हिमस्रा, कासनी, अर्जुन जिनकी प्रकृति और गुणों के बारे में  बताया गया है। Himalaya Liv.52 DS Syrup की उचित खुराक मरीज की उम्र, लिंग और उसके स्वास्थ्य संबंधी पिछली समस्याओं पर निर्भर करती है।

Himalaya Liv.52 Syrup किस काम आता है | liv 52 syrup uses in hindi

Himalaya Liv.52 Syrup भूख में सुधार करता है: एनोरेक्सिया में और इष्टतम वृद्धि और वजन बढ़ाने के  काम आता है | Liv.52 DS बुनियादी भूख तृप्ति लय को सामान्य करता है. यह गर्भावस्था के दौरान भूख न लगने के  नुकसान को भी संबोधित करता है. दैनिक स्वास्थ्य पूरक के रूप में, Liv.52 DS भूख, पाचन और आत्मसात प्रक्रियाओं में सुधार करता है और वजन बढ़ाने को बढ़ावा देता है|

Himalaya Liv.52 Syrup निम्नलिखित समस्याओं का इलाज करने में मदद करता है:liv 52 syrup uses in hindi

  1. पेट और आंतों की समस्याएं: यह सिरप पेट के संबंधित समस्याओं जैसे कि आपचन, गैस्ट्रो-इंटेस्टाइनल समस्याएं, अपच आदि का इलाज करने में मदद कर सकता है।
  2. लिवर संबंधित समस्याएं: यह सिरप लिवर की स्वास्थ्य को सुधारने में सहायक होता है, जैसे कि फैटी लिवर, सिरोसिस, जांघन और पित्ताशय सम्बंधित समस्याएं।
  3. शरीर का वजन बढ़ाने में सहायक: यह सिरप खाने की प्रवृत्ति और पौष्टिकता को बढ़ाने में मदद कर सकता है, जिससे वजन बढ़ाने में सहायक होता है।
  4. शरीर का उत्सर्जन स्वच्छ करना: यह सिरप शरीर में जमी हुई विषैले पदार्थों को निकालने में मदद करता है और शरीर को स्वच्छ रखने में सहायक होता है।

Liv.52 Syrup का  इस्तेमाल कब  किया जाता है |liv 52 syrup uses in hindi

  •  पीलिया में |
  •  भूख में सुधार करता है
  •  पाचन में सुधार करता है
  •  यकृत को होने वाले नुकसान में सहायता करता है
  •  वायरल हेपेटाइटिस में भी इस्तेमाल किया जाता है

Liv. 52 Syrup के साइड इफ़ेक्ट क्या है |liv 52 syrup uses in hindi

  • चक्कर आना
  •  एलर्जी की प्रतिक्रिया
  •  मलाशय से रक्तस्राव
  •  भार बढ़ना

Himalaya Liv.52 Syrup किन सामग्री से मिलकर बना है |liv 52 syrup uses in hindi

liv 52 syrup uses in hindiनिम्नलिखित चीजों से मिलकर बनाया जाता है|

  1. गिलोय (Tinospora cordifolia): गिलोय का उपयोग विभिन्न आयुर्वेदिक उपचारों में किया जाता है और यह शरीर की रोगाणुओं से लड़ने में मदद करता है।
  2. धतूरा (Datura metel): धतूरे के पौधे के फलों का सिरप कई स्वास्थ्य सम्बंधित समस्याओं का उपचार करने में उपयोगी होता है।
  3. पिप्पली (Piper longum): पिप्पली का सिरप दारुहरिणी, पाचन शक्ति बढ़ाने, और सामान्य स्वास्थ्य को बढ़ाने में मदद कर सकता है।
  4. शतावरी (Asparagus racemosus): शतावरी का उपयोग यौन दुर्बलता, एंटी-एजिंग, और पौष्टिकता को बढ़ाने के लिए किया जाता है।
  5. आंवला (Emblica officinalis): आंवला विटामिन सी का अच्छा स्रोत है और इसका सेवन इम्यूनिटी को बढ़ाने और विभिन्न रोगों से लड़ने में मदद कर सकता है।

ये सभी सामग्रीयाँ हिमालय लिव.५२ सिरप में मिलाकर तैयार किया जाता हैHimalaya liv. 52 syrup uses in hindi

Himalaya Liv.52 Syrup का स्तेमाल |liv 52 syrup uses in hindi

 

  1. बच्चों के लिए:
    • बच्चों को हर दिन डॉक्टर की सिफारिश और मात्रा के अनुसार सिरप का सेवन कराना चाहिए।
    • सामान्यतः, बच्चों को 5 से 10 मिलीलीटर की मात्रा में सिरप दी जा सकती है, लेकिन इसे डॉक्टर के परामर्श लेने के बिना नहीं बदलना चाहिए।
  2. वयस्कों के लिए:
    • वयस्कों को हर दिन डॉक्टर द्वारा सिफारिश की गई मात्रा के अनुसार सिरप का सेवन करना चाहिए।
    • सामान्यतः, वयस्कों को 10 मिलीलीटर से लेकर 15 मिलीलीटर की मात्रा में सिरप लिया जा सकता है, लेकिन इसे बिना डॉक्टर की सलाह के बदलना नहीं चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *